Exulansis

मेरे लिए तुम हो कौन ? ऐसा है सवाल इस दुनिया का.. सुनके ये, लब मेरे रह जाते मौन आखिर अब मैं कहूँ इनसे,तो कहूँ क्या ? क्या जवाब दूँ मैं इस दुनिया को? जो जज़्बात कम अलफ़ाज़ ज़्यादा समझती है. ऐसी कौन सी शब्दों की माला पिरोऊ, जो मेरे दिल से निकले.. और अवाम … More Exulansis